अक्सर मैं सोचता हूँ अगर उसे...मेरे साथ प्यार नही था तो क्या था , कभी में अपने आपसे पूछता हूँ


अक्सर मैं सोचता हूँ अगर उसे...मेरे साथ प्यार नही था तो क्या था , कभी में अपने आपसे पूछता हूँ , में गलती क्या कर गया ???
.
सिद्दत तो मैंने पूरी की थी फिर चूक कहाँ हुई , पता लगा प्यार ही सब कुछ नहीं होता , सुनकर अक्ल आयी पर देर हो चुकी थी । हर उस चीज का आकलन किया गया जहाँ मैं कमजोर था तो समझ आया की उसने सिर्फ उन पर ही हाथ रखा था जो मेरी दुखती रग थी । हर कोशिश को आजमाया था मैंने भी... पर एक मोड़ हरा ही गया । जो गाँठ नहीं आनी थी वो आ ही गयी और ऐसी आई की खुल ही नहीं पायी शायद मैंने खोलनी नहीं चाँही , क्योंकि मुझे पता था इस बार रस्सी टूट ही जानी है, तो जाने दिया।
.
Wowapp duniyan ka no 1 app

दोस्तो हमेशा याद रखना...प्यार में उम्र नही लेकिन फीलिंग्स के पलड़े बराबर होने बहुत जरुरी हैं , अगर ऊँच नीच हुई तो परिणाम खात्मे की तरफ ले जाता है । रिश्तों की डोर बहुत नाजुक होती है , ये हर रिश्ते में होता है। कभी सोचा नहीं था की अंजाम इतना घातक होगा ,की हर तरफ से हार मेरी ही होगी । मैंने हारना तो नहीं सीखा था पर एक जगह आकर गिर गया , किसी से नहीं हारा बस अपने दिल से हार गया ।
.
‪#‎टूटा_टूटा_एक_परिंदा_ऐसा_टूटा_की_फिर_उड़_ना_पाया‬ A- P

Comments

Popular posts from this blog

जीवन का उद्देश्य क्या है

"फौजी" का बेटा हू ,मिट्टी से तिलक लगाता हू

whatsapp status अब मेरी बेटी थोडी जिद्दी हो गयी है